7 main differences between rich and poor | 7 चीजें गरीब लोग करते हैं जो अमीर नहीं करते हैं

By | May 19, 2022

7-things-poor-people-do-but-rich-dont-do | 7 चीजें गरीब लोग करते हैं जो अमीर नहीं करते हैं

Table of Contents

 

 

Rich Vs Poor , Rich Dad Poor Dad,  Poor do But Rich Don’t do , 7 things poor do , 7 mistakes poor people do ,difference between rich and poor,7 habits of highly effective people, things poor do but rich dont, things rich do but poor dont , life of poor versus rich,7 main differences between rich and poor,7-main-differences-between-rich-and-poor

7 main differences between rich and poor , 7-main-differences-between-rich-and-poor

 

7 main differences between rich and poor

 

1 अमीर लोग किताबें पढ़ते हैं; गरीब लोग टीवी देखते हैं ( 7 things Poor do But Rich Don’t do )

जहां गरीब लोग टीवी पर वेब सीरीज और नेटफ्लिक्स और मूवीज देखकर आनंद ले रहे होते है। वहीं अमीर लोग खुद को शिक्षित कर रहे हैं, उन चीजों को समझने की कोशिश कर रहे हैं जो वे पहले नहीं कर सकते थे। वो हमेशा कुछ नया सिखने कि तलाश में रहते है।

जो ये सोचता है कि उस बहुत हो गया , अब कुछ ज्ञान प्राप्त करने कि जरूरत नहीं है , वो अपनी तरक्की का रास्ता खुद बंद कर देता है।

किताबे अमीर लोगों को अमीर नहीं बनती है लेकिन किताबें जो उन्हें उनके लक्ष्यों को पूरा करने के करीब जरूर ले आती है , उनकी समझ और बुद्धि विकसित होती है।

सच में कहु तो सुना बहुत है लेकिन ये सच है ” पड़े से दिमागी कि बत्ती जल जाती है ” मनो या न मनो ये सही है और मैंने खुद आजमाया हुआ है
अगर आप कुछ अच्छी बुक्स पढ़ना चाहते है या अपनी दौलत को बढ़ाना चाहते हैं तो कुछ बुक्स जैसे ‘रिच डैड, पुअर डैड’ या ‘द रिचेस्ट मैन इन बेबीलोन’ जैसी किताबें अच्छी है।

मैंने इन सभी पुस्तकों को पढ़ा है और मैं आपको उन सभी की अनुशंसा करता हूं। कमेंट बॉक्स में अगर आपके पास भी कोई अच्छी बुक का नाम हो तो जरूर बताये , इसमें संकोच न करें। मैं हमेशा अधिक ज्ञान की तलाश में रहता हूं।

2 गरीब लोगों को समय के आधार पर पैसा मिलता है। , अमीर लोगों को परिणामों के आधार पर पैसा मिलता है ( 7 things Poor do But Rich Don’t do )

गरीब लोगों को उनकी किये हुए काम के घंटो के हिसाब से पैसा मिलता है ,जो वेतन भोगी (salaried ) person है , उनको सैलरी मिलती है , चाहे कंपनी को 10 मिलियन का मुनाफा हो या 100 मिलियन का ,उनको वही सैलरी मिलती है। क्योकि उनको किये हुए काम का पैसा मिलता है जो फिक्स है।

और हां परिणाम खराब होने पर गरीब लोगों को दंडित भी किया जाता है। उन्हें बर्खास्त किया जा सकता है। यह सब इस बात पर निर्भर करता है कि आपका बॉस आपको कितना अच्छा लगता है। , या आपकी कंपनी का work culture कैसा है ,

कई लोग कंपनी में अपने skill developement कि जगह , अपनी जगह कंपनी में कैसे बानी रहे उस पर काम करते है। मतलब चापलूसी ,बाते बनाना , अपने earning skills में improve करने के बजाय, आप ये सीख रहे होते है कि,

अपने बॉस को नाराज़ कैसे न करें। बॉस को खुश कैसा रखा जाए और यह दिखावा कैसे किया जाए कि आप अपने बॉस के बिना काम कर रहे हैं

या फिर ये show करना एक ‘लंबे और थकाऊ’ कार्य दिवस के अंत में थके नहीं हैं, बॉस खुश हो जाएगा लेकिन इससे आप अमीर नहीं बनेंगे!

आप खुद सोचो आप क्या सीख रहे हो ,आपमें कब तक यही बोस के तलवे चाटने कि कला विकसित करते रहेंगे। फिर भी आप का स्थान कंपनी में पक्का है , इस बात कि कोई गारंटी नहीं है , और यदि है भी तो प्रमोशन के chances बहुत कम है।

मान लो आपने किसी बहुत अच्छी जगह से MBA किया। और आप किसी कंपनी में जॉब कर रहे है। तो आप ने जो कुछ भी पड़े के दौरान सीखा , आप में जो कुछ भी स्किल्स है , आप वो आपने सारे स्किल्स कंपनी कि तरक्की के लिए उसे कर रहे है।

मैं कई बड़े कंपनी के मालिकों को कहते सुना है। लोग पढ़ लिख के हमारी कंपनी में अपने स्किल्स हमें florish करने में यूज़ करते है।

मतलब आप आपने सारा हुनर दुसरो को बनाने में लगते हो।

यदि आप अपने सरे skills अपने आप को अमीर बनाने में लगाते हो , तो स्किल डेवलपमेंट आपको जो रिजल्ट देंगे वो आपके अपने होंगे

आप इस तरह लाखों, अरबों भी कमा सकते हैं। यदि आप एक कंपनी शुरू करते हैं जो उत्पाद या सेवा प्रदान करती है, तो आप शेयरधारक हैं, सब कुछ आपका है , अगर जोखिम सारे आपके है तो फायदे भी सारे आपके है ।

सभी बड़ी कंपनियों ने इस तरह से शुरुआत की, Amazon, Microsoft, Apple, Google इत्यादि।, यहां तक ​​​​कि मैकडॉनल्ड्स की कीमत 140 बिलियन है। जब तक आप निचे से शुरू नहीं करते हो ,

तब तक आप अमीर नहीं हो सकते हैं। उन्होंने जोखिम का डटकर मुकाबला किया। वे अपने skill में master थे। , वे साथ ही वो अपने जोखिम के भी मालिक थे । और आज वो परिणाम के भी मालिक हैं!

वे उन लोगों के काम (स्किल ) के स्वामी हैं जिनको वे pay करते है । मतलब काम कोई और कर रहा है फायदा उन्हें हो रहा है ,
पढ़ाई किसी और ने की है , और वो उनकी काम पर रख कर , उनकी सारी पढ़ाई और हुनर का फायदा वो ले रहे है।

इसी तरह आपका काम परिणाम आधारित ( result based ) होना चाहिए। वो लोग एक ही दिन में उससे अधिक पैसा कमा सकते हैं; जितना एक दशक में आप कर सकते हैं।

३ अमीर लोग अपनी असफलताओं की जिम्मेदारी खुद लेते हैं; गरीब लोग अपने दुर्भाग्य के लिए दूसरों को दोष देते हैं।

गरीब लोगों के लिए, गलती हमेशा किसी और की होती है। वे कभी भी अपनी गलतियों के मालिक नहीं बनते हैं। और इससे क्या होता है कि वे सुधार नहीं कर सकते। वे गलतियों से नहीं सीखते। ( जब गलती ही नहीं मानते तो उसमे इम्प्रूव क्या करना )

ऐसा सोचने से आपके earning skills को improve करने के सभी दरवाजे बंद हो जाते हैं। कोई भी कभी भी परफेक्ट नहीं हो सकता है , सुधार कि गुंजाइश सबमे होती है , और गलती किसी से भी हो सकती है , इसलिए उसे मानो और उसमे सुधार करो।

लेकिन अगर आप पहले से ही सर्वश्रेष्ठ हैं तो आप सोचो कि, अधिक पैसा कमाने के लिए आप क्या कर सकते हैं ?

लोग नए नए बहाने बनाते है , जैसे , अर्थव्यवस्था खराब है या मेरे बॉस मुझे पसंद नहीं करता है। या सरकार ने चीजों को खराब कर दिया है। मेरी माँ मुझे नहीं जाने देगी।, यह आपका दृष्टिकोण है जो गलत है।

अमीर लोग अपनी असफलताओं की जिम्मेदारी लेते हैं। वे इसका उपयोग यह सीखने के लिए करते हैं कि इसे बेहतर तरीके से कैसे किया जाए। वे जो कर रहे हैं उसमें सुधार कैसे करें। ऐसा करने में, वे उन परिणामों में सुधार करते हैं जो वे पूरा कर सकते हैं।

इसीलिए वो उतने टाइम में ही ज्यादा पैसा कमाते है।
आप क्या करते हो , आप अमीर होने के बजाय आलसी होना पसंद करते हैं। अगर आपका जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त है, तो यह आपकी गलती है। किसी और को दोष देने से दोष ठीक नहीं होगा। , आपके कार्य ( गलत या सही ) आपके अपने थे, उनकी जिम्मेदारी लें।

अपने कार्यों में सुधार करें, अपने आप को सुधारें। इतना मूल्यवान बनो कि कोई आपके काम कि कीमत न दे सके किसी के लिए काम ना करना पड़े।

आप अपना पैसा खुद कमाते हैं। आपके द्वारा बनाए गए परिणाम ( Result ) से आपको भुगतान मिलता है। आप अपने खुद के मालिक बन सकते हैं। आप अपना भाग्य खुद तय कर सकते है।

4 अमीर लोग निवेश पर ध्यान देते हैं; गरीब लोग बचत पर ध्यान देते हैं।

बचत करके आप कभी अमीर नहीं बन सकते। गरीब लोग यही करते है , वे बचत करने पर ध्यान देते है , मान लो अगर आप एक साल में 5 लाख कमाते है , आप 2 लाख रुपए yearly  जोड़ भी लेते है ,

तो आप 40 साल में कितने जोड़ लोगे 40*2=80 लाख , जबकि , अमीर आदमी अगर कही पैसा इन्वेस्ट करता है , और सही तरह से काम करता है , तो वो 1 साल में ही 1-2 करोड़ कमा लेता है , तो सारा खेल सोच का है

फर्क सिर्फ इतना है , कि गरीब लोग कि मानसिकता रिस्क लेने की नहीं होती , जबकि अमीर आदमी रिस्क लेता है , और अमीर भी बनता है , ये तो है कि बिज़नेस में अप एंड डाउन तो आता है , और आएंगे भी , लेकिन, आप कितने ही स्किल्ड लोगो को अपनी अंदर काम पर रख लोगे , जो दिन रात आपकी तरक्की के लिए काम करेंगे, और आप उनको एक फिक्स सैलरी दोगे।

देखो एक MBA करा हुआ आदमी को अगर आप अपनी सौंपने में HIRE करते हो , तो वो अपने सारे स्किल्स, अपनी सारी पढ़ाई , आपके बिज़नेस को ऊपर उठाने में लगाएगा , बदले में आप सिर्फ उसे 1 फिक्स सैलरी देंगे ,

मतलब वो अपने सारे SKILLS , आपको और आपकी कंपनी को फ़्लोरिश ( flourish ) करने में लगाएगा , क्युकी आप बिज़नेस कर रहे हो , आपने RISK लिया है , इसलिए आप करोड़ो कमाएंगे भी। और वो जिसने अपनी सारी जिंदगी पढ़ाई लिखे में , अपने स्किल्स को इम्प्रूव करने में लगा दी, आपने उसको HIRE कर लिया , और उसके सारे स्किल्स , अब आपके लिए वो लगा रहा है ।

अगर आप नौकरी करते , अपने सारे स्किल्स लगाते भी , और चाहे कंपनी को उससे 1 करोड़ का फायदा होता , आपको क्या मिलता, कुछ नहीं , कुछ भी एक्स्ट्रा नहीं मिलेगा।

5 अमीर लोग लगातार सीखते रहते हैं; गरीब लोग सोचते हैं कि वे यह सब जानते हैं।

अमीर लोग सीखते रहते हैं क्योंकि वे अपनी गलतियों को समझते है और फिर भविष्य में ऐसी गलती ना हो , इसके लिए उन्हें यह जानने की जरूरत है कि खुद को कैसे सुधारें ताकि वे कम गलतियां कर सकें।

गरीब लोग सोचते हैं कि वे परिपूर्ण हैं और उन्हें और जानने की आवश्यकता नहीं है। उन्हें पहले से ही सब आता है , वो बोलते है , “मुझे सब पहले ही आता है। “, उनके अनुसार नया सिखने का मतलब , उन्हें पहले नहीं आता था , इसलिए वो ये मानते ही नहीं , कि उन्हें नहीं आता है।

अमीर लोग जानते हैं कि सीखने कि गुंजाइश हमेशा रहती है , कोई भी कभी भी परफेक्ट नहीं हो सकता है और उन्हें परफेक्ट नहीं बेहतर बनने की जरूरत है। अमीर लोगो को लगता है , कि जिस दिन आप ये सोच लोगे कि आपने सब सीख लिया , उस दिन आपकी तरक्की बंद हो जायेगी

गरीब लोग बात करना पसंद करते हैं। वे दुनिया को अपनी राय बताना पसंद करते हैं। यह ऐसा है जैसे वे दुनिया को बदलने की कोशिश करते हैं ताकि दुनिया उनकी तरह परिपूर्ण हो सके।( जबकि वो खुद बहुत काम जानते होते है। )

दुनिया में सबसे बड़ा मुर्ख वो है , जो ये समझता है , कि उसे सब आ गया , वो सब कुछ सीख गया।

गरीब लोग चीजों को बदलने की बात करते हैं जबकि वे यह भी नहीं जानते कि वर्तमान चीजें कैसे काम करती हैं। और जबकि , अमीर लोग दुनिया की सुनते हैं। दुनिया में एक से ज्यादा एक स्मार्ट और समझदार इंसान है। यह ज्ञान का स्रोत है। दुनिया को बदलने का कोई मतलब नहीं है क्योंकि दुनिया शायद आपसे ज्यादा स्मार्ट होगी।

अगर आप खुद के बजाय दुनिया को बदलने की कोशिश करेंगे तो आप सीखना बंद कर देंगे और अपने में सुधार करना बंद कर देंगे।

गरीब लोग अपनी राय बताते हैं और चाहते हैं कि दूसरे सुनें।

अमीर लोग सवाल पूछते हैं और चाहते हैं कि दूसरे जवाब दें।

गरीब लोग ध्यान ( लोगो का अट्रैक्शन पाना ) चाहते हैं।
अमीर लोग ज्ञान चाहते हैं। जिससे आगे और बेहतर किया जा सके।

गरीब लोग चीजों को बेहतर तरीके से करने के बारे अपनी राय देते रहते है।
अमीर लोग बातें करते हैं। और फिर उस पैर analysis करके सोचते है कि और इसे बेहतर तरीके से कैसे किया जाए।

6 अमीर लोग मानते हैं कि गरीबी सभी बुराइयों की जड़ है; गरीब लोग मानते हैं कि पैसा सभी बुराइयों की जड़ है।

यदि आप मानते हैं कि पैसा बुराई है, तो आप इसे क्यों चाहते हैं? आप धन का लेन-देन किए बिना अमीर बनना चाहते हैं? मैंने कभी किसी अमीर व्यक्ति को बैंक या गहने लूटते नहीं देखा।

गरीब लोग जो गरीबी में रहते हैं, उनके लिए किसी और का पैसा चुराने के बारे में सोचना आसान होता है। उन सभी की राय है कि अमीर लोग को लूट लेना चाहिए , उनसे चोरी करना अच्छी बात है। वे सभी रॉबिन हुड का किरदार निभाना पसंद करते हैं। अमीरों से चोरी करो और गरीबों को दो।

रोबिन हुड का किरदार किसी को सही लग सकता है , लेकिन, ये गलत ही है , सरकार , अमीरो से जो टैक्स का पैसा लेती है , वो भी तो समाज और गरीबो कि भलाई में ही लगाया जाता है , क्योकि सरकार और नीतिकारों को पता है , कहाँ कितना पैसा लगाना जरुरी है।

देखो , कोई भी अपनी मेहनत की कमाई को खोना पसंद नहीं करता है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपके पास बहुत पैसा है या थोड़ा
अगर आप चोरी करते हैं, तो आप अपराधी हैं।

अगर आप अमीर लोगो को बुरे लोग कहकर इसे सही ठहराने की कोशिश करते हैं। यह आपकी समस्या है। पैसा उन्हें बुरा नहीं बनाता, बल्कि गरीबी में रहने ने आपको बुरा बना दिया है।

अगर आपके पास 3 कारें हैं और मेरे पास कोई नहीं है। तब मैं यह कहकर आपकी एक कार चोरी करने को उचित नहीं ठहरा सकता कि आपके पास मेरे से ज्यादा कारे है
इस बारे में जो सोच है वो ना तो अमीर कि सही है , ना ही गरीब की, क्योकि

पैसा तटस्थ है; यह लोगों को वह करने की स्वतंत्रता देता है जो वे चाहते हैं। लोग जन्म से ही दुष्ट नहीं होते। कोई घटना उन्हें ऐसा बना देती है।
वैसे मेरा मानना है , कि गरीबी अधिकांश बुराइओं कि जड़ है ,

क्योकि जितने भी अपराधी, लूट मार या चोरी कि घटनाओ में पकडे जाते है , वो कोई अमीर या बिज़नेस मैन लोग नहीं होते है। वो पैसा कमाते है , और टैक्स देकर देश के विकास में और अपने विकास में योगदान देते है

 

7 धनी लोगों की कार्य मानसिकता होती है; गरीब लोगों की लॉटरी मानसिकता होती है।

अमीर लोग दिन रात एक करके मेहनत करते हैं। और खुद को अमीर बनाते हैं। जबकि गरीब लोगों को अमीर बनाने के लिए किसी न किसी की जरूरत होती है। गरीब लोग सफलता के लिए जुआ खेलना पसंद करते हैं। अगर वे लॉटरी जीत जाते हैं, तो वे अपनी नौकरी छोड़ देते हैं,

गरीब सोचता है , कि मेरी लाटरी निकल जाए , और मेरे पास इतना धन आ जाए कि मेरी जीवन कि समस्त इच्छाएं पूर्ण हो जाए , वो अपनी सारी कमाई लाटरी की टिकट में गवाँ देते है।

अमीर लोग योजना बनाते हैं। और प्लानिंग करते है , कि वे जो चाहते हैं उसे प्राप्त करने के लिए उन्हें क्या करने की आवश्यकता है, वो पूरी विस्तृत चरणों के साथ एक कार्य योजना बना कर उसको अंजाम देने में जुट जाते है।

उन्हें अपने दोस्त या अपनी माँ से अपने जीवन में कुछ करने की अनुमति मांगने की आवश्यकता नहीं है। यह उनका जीवन है। उनके ही नियंत्रण में हैं।

 

यदि आपको CHANGE YOUR LIFE की MOTIVATIONAL कहानियां पसंद आती हैं या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हैं तो हमें नीचे  comment करे ,और इसे अपने Facebook friends के साथ ज़रूर share करें,  [email protected] पर लिखें या Facebook, Twitter पर संपर्क करें।

यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है : [email protected] पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!

यह भी  पढ़े :-

10 Genius Tricks-to-increase-your-prestige-in-society | समाज में अपना मान -सम्मान बढ़ाने की 10 ट्रिक्स

Genius : 14-tricks-that-will-increase-your-value-in-people | जानें ये 14 Tricks  जो लोगों में आपकी वैल्यू बढ़ा देंगी

Extraordinary : 7-qualities-so-you-can-get-rid-of-every-trouble | अगर आपके भीतर हैं ये सात गुण तो आप हर मुसीबत से पा सकते हैं छुटकारा

MIRACLE : 10-Tips-To-Develop-Pleasant-Personality | 10 टिप्स जो आपकी personality  को खुशनुमा बना देंगे  

 

medium.com

image courtesy 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *