led-bulb-business-young-entrepreneur-india | 15 साल के बच्चे ने ,लॉकडाउन में सीखा LED Light बनाना, दिया चार लोगों को रोज़गार

By | December 18, 2021

15 साल के बच्चे ने , लॉकडाउन में सीखा LED Light बनाना, दिया चार लोगों को रोज़गार | led-bulb-business-young-entrepreneur-india

Table of Contents

सभी के लिए घरेलु बिजनेस आईडिया : घर बैठे लाखों कमायें ,यूनिक बिजनेस आइडियाज इन हिंदी ,छोटा बिजनेस प्लान, बिग बिज़नेस आइडियाज इन हिंदी 2022,न्यू बिजनेस प्लान ,(Top 10 Business Ideas for All/men/boys in hindi ,unique business ideas in hindi ,small|big business ideas  in hindi 2022 ,home based gharelu udyog)

LED Bulb Business At Home By Gorakhpur Boy Amar Prajapati 15 year boy led light bulb

Jeevan Prakash Industries Pvt Ltd

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के रहने वाले 15 साल के अमर प्रजापति ने ना केवल लेकिन कोरोना महामारी के दौरान घर से दूर फंसे मजदूरों की बेबसी दे,साथ ही अपने परिवार के लिए उन्होंने LED Bulb Business शुरू किया

जब कोरोना का कारण लॉक डाउन लगा तो कई लोगो को खाने का लाले पड़ गए। उद्योगपतिओं ने मजदूरो को नौकरी से निकल दिया। सारी उम्र जिन मजदूरों के दम पर लाखो करोड़ो कमाए, उन्हें दूध में से मख्खी की तरह निकल दिया, जैसे उनकी कोई जरुरत ही नहीं।

कोरोना महामारी के दौरान लोगों की जिंदगी कितनी कठिन हो गई थी। हजारों मजदूर अपने घर से दूर फंसे हुए थे और उनके पास आमदनी का कोई जरिया नहीं था। वह पैदल ही घर की और चल पड़े थे। जिस वजह से उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा था।

Read In English :- 15 year old child learned to make LED light in lockdown, gave employment to four people

उस दौर में एक 15 साल के छोटे से बच्चे ने स्टार्टअप शुरू किया , और लोगों की मदद करने की ठानी। यह प्रेरक कहानी है उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के रहने वाले अमर प्रजापति नाम के बच्चे की।

अमर एक लोकल निजी स्कूल में नौवीं की पढ़ाई कर रहा है। और पिछले साल लोगों की मदद तथा अपने घर को भी support करने के लिए उसने ‘जीवन प्रकाश इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड’ नाम से एक start -up शुरू किया, जिसके तहत वह LED Bulb बनाने का काम (LED Bulb Business) स्टार्ट किया

बेरोज़गार मज़दूर का दर्द देखा नहीं गया।

जब पिछले साल कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए, मार्च में अचानक मोदी सरकार द्वारा लॉकडाउन लगा दिया गया था। इस वजह से हजारों लोग अपने घर से बहुत दूर कही फस गए। और कई मजदूरों के पास कमाई का कोई जरिया नहीं था। तभी उन्होंने लोगों की मदद के लिए कुछ शुरू करने का फैसला किया।

अमर को बचपन से ही इलेक्ट्रॉनिक्स से काफी लगाव है। वह पहले भी घर में कुछ न कुछ जुगाड़ करते रहते थे। इसलिए उन्होंने सोचा की क्यों ना इसी से जुड़ा कुछ काम किया जाए। तभी सोचा कि अभी LED Bulb से जुड़ी कंपनियां काफी अच्छा काम कर रही हैं। क्यों ना मैं भी यही LED Bulb बिज़नेस का काम स्टार्ट करू।

Read :- 1.25 लाख की नौकरी छोड़, इंजीनियर COUPLE ने शुरू किया ‘चाऊमीन का ठेला

अमर के पिता ने भी पूरा साथ दिया

अमर के पिता श्री रमेश प्रजापति ने उन्हें इस बिजनेस (LED Bulb Business) को शुरू करने के लिए, उन्हें काफी प्रेरित किया।।
उनके पिता साधारण व्यक्ति है जो गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) में कैशियर हैं।

रमेश प्रजापति ने सोचा की काम शुरू करने से पहले थोड़ी ट्रेनिंग जरूर होनी चाहिए। इसलिए उन्होंने अमर को अपने एक दोस्त के घर LED Bulb बनाने की ट्रेनिंग के लिए भेजा जहा उन्होंने सिर्फ पांच दिनों की ट्रेनिंग ली। क्योकि इलेक्ट्रॉनिक्स में तो अमर की पहले से ही रूचि थी।

फिर,उसी दोस्त की मदद से दिल्ली से रॉ मेटेरियल मंगाया और सितंबर 2020 में अपनी कंपनी ‘जीवन प्रकाश इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड’ शुरू कर दी।

Read :- टिफ़िन सर्विस बिज़नेस कैसे शुरू करें : गृहिणी से उद्यमी बनीं दिल्ली की जिनिषा से जानें

अब LED Bulb Business में बनाते हैं 15 से अधिक तरह के बल्ब

अमर के पिता ने मेहनेत की कमाई में से 2 लाख से LED Bulb Business को शुरू किया। लेकिन अब वो 15 से अधिक तरह के बल्ब बना रहे है। और बाजार से सस्ता बेच रहे है। उनका कहना है कि led bulb एनर्जी भी कम कन्ज्यूम करता है। साथ ही साथ बिजली की बचत करता है और अंत में पर्यावरण को ही फायदा होता है।”

LED Bulb Business की शुरुआत

अमर ने पहले इस LED Bulb Business की शुरुआत अपने घर से ही की थी। लेकिन जैसे-जैसे काम बढ़ने लगा, उन्होंने इसके लिए घर के पास ही एक कमरा किराये पर ले लिया और काम को बढ़ाते गए।

उनके led बल्ब में क्या खास है।

अमर 7 वाट के बल्ब से लेकर 20 वाट तक के ट्यूबलाइट तक बनाते हैं। और साथ ही वह 7 वाट और 9 वाट के बल्ब पर एक साल की वारंटी भी दे रहे है। ताकि लोगो का विश्वास बड़े जबकि बाजार में और कई ब्रांड सिर्फ सिर्फ 6 महीने की वारंटी देते है

नए innovation तथा प्रयोग

उन्होंने लोगो कि जरुरत को धयान में रखते हुए 9 वाट का एक ऐसा बल्ब बनाया है, जो बिजली के साथ-साथ बैटरी पर भी चलता है। इस बल्ब की बैटरी लाइफ चार घंटे की है। क्योकि गांवों में बिजली की समस्या आम है।

एक और नया innovation इसी क्रम में किया कि एक ऐसा बल्ब बनाया है, जिसमें सोलर पैनल (Solar Panel) लगा हुआ है और बिजली नहीं हो तो कोई बात नहीं इसे आप धूप में रखकर चार्ज कर सकते है। इस बल्ब का आकार एक लालटेन की तरह है। इस सोलर लालटेन में एक से लेकर छह लाइट हैं। एक लाइट पर इसकी बैटरी लाइफ जहां 12 घंटे है। अगर छह लाइट जला दे तो तब भी इसे कम से कम तीन घंटे तक आसानी से जलाया जा सकता है।

अमर इस सोलर लालटेन पर छह महीने की वारंटी भी दे रहे है और इसका होलसेल दाम 210 रुपए है। वहीं, बाजार में इसकी कीमत 230 से 250 रुपए है।

15 year old boy led business amar prajapati SOLAR LANTERN

15 year old boy led business amar prajapati SOLAR LANTERN

Decorative light भी बनाते है।

उनकी कंपनी एक ऐसी decorative light लाइट भी बना रही है जो पूरी तरह से वाटर प्रूफ और shock प्रूफ है। आप इसे डेकोरेशन के लिए पानी में भी जला सकते हैं और इसमें करंट का भी कोई डर नहीं है।

इस लाइट को डीसी करंट पर जलाया जाता है। 20 मीटर के इस झालर लेड कोटेड बल्ब से बानी जाती है और अतिरिक्त सुरक्षा के लिए इसपर रबर की एक और कोटिंग चढ़ाइ जाती हैं।

वैसे तो इसमें पानी जा ही नहीं सकता पर इसमें यदि पानी चला भी जाए तो कोई दिक्कत नहीं। इस झालर पर वह एक साल की गारंटी देते हैं। इस दौरान यदि यह खराब हुआ, तो आप हमें वापस कर सकते हैं।

इन सबके अलावा अमर कि कंपनी एक ब्लूटूथ बल्ब (bluetooth bulb ) भी बनाती है, जिसमें स्पीकर और सेंसर भी लगा है। इस बल्ब में मल्टीकलर led light लगी हुई है जिसमे पांच-छह रंग की लाइट जलती रहती है , जिसे आप अपने ब्लूटूथ से कनेक्ट कर सकते हैं और मोबाइल से गाने चला सकते है

led-bulb-business-young-entrepreneur-india

led-bulb-business-young-entrepreneur-india

उनकी कंपनी 15 और 20 वाट का बल्ब और ट्यूबलाइट भी बनाती है। उनकी कंपनी का एक ऐसा टेबल लैम्प आने वाला है जो बैटरी पर चलेगा ताकि लाइट ने होने पर भी बच्चो कि पढ़ाई का नुक्सान ने हो। जिसका बैटरी बैकअप कम से कम 12 घंटा होगा।

उनकी सौंपने का बढ़िया quality का बल्ब बनाती है। ताकि कस्टमर कि कम से कम कंप्लेंट आये।

वह बल्ब बनाने के लिए स्ट्रिप लेड बल्ब का इस्तेमाल करते हैं, जिससे अधिक रौशनी होने के साथ ही बिजली की भी खपत कम होती है। और डिजाइन को इस तरह से बनाने की कोशिश करते हैं कि रौशनी एक ही जगह पर फोकस होने के बजाय अधिक से अधिक फैले और आंखों को न चुभे।

कैसे करते हैं LED Bulb बिज़नेस( 4 लोगो कि रोजगार भी दिया )

इस समय उनकी कम्पनी में लोग काम करते हैं। जिसमें एक मैनेजर, दो कारीगर और एक मार्केटिंग को संभालने वाला है। वह अपने बनाए LED Bulb को लोकल मार्किट में था लोकल दुकानदारों को बेचते हैं। वह दुकानदारों से पहले सिर्फ 70 फीसदी पैसे लेते हैं और बाकी बल्ब बिकने के बाद।

अभी उनका प्रॉफिट मार्जिन काफी कम रखा हुआ है। इस वजह से मार्किट में जल्द अच्छी पकड़ बन गई है । उदाहरण के तौर पर, मार्किट में 9 वाट के एसी-डीसी बल्ब 300-350 रुपए में मिलते हैं, लेकिन उनका बल्ब आपको 270-275 रुपए में मिल जाएगा।

उनकी कंपनी अभी तक पांच लाख से अधिक बल्ब बना चुकी है। और उनका बाजार गोरखपुर से आगे बढ़कर लखनऊ, मऊ, आजमगढ़, बस्ती और गोंडा तक पहुंच चुका है।

उन्होंने जिस LED Bulb Business को सिर्फ 2 लाख रुपए से शुरू किया था, आज उस बिज़नेस में 20 लाख रुपए लगे हुए है
अभी तक 15 लाख रुपये का मुनाफा कमा चुके है।

15 year old boy led business amar prajapati led light bulb

AMAR PRAJAPATI DOING HIS WORK

LED Bulb Business में चुनौतियां

उन्होंने अपना प्रॉफिट मार्जिन कम रखा है और वह दुकानदारों से 30 फीसदी पैसे बल्ब बिकने के बाद लेते हैं। वह कहते हैं कि कभी-कभी दुकानदारों को बल्ब बेचने में काफी समय लग जाता है और वह बल्ब बिकने के बाद ही पैसा देते है। इस वजह से उन्हें LED Bulb Business को चलाने में, कई बार आर्थिक समस्या का सामना करना पड़ता है। लेकिन वह इस LED Bulb Business को किसी भी तरह से रुकने नहीं देना चाहते।

future प्लानिंग( भविष्य कि राह )

अमर इस LED Bulb Business को अपना करियर बनाना चाहते हैं।

led-bulb-business-young-entrepreneur-india

AMAR PRAJAPATI WATER PROOF LIGHTS

उनके पिता रमेश प्रजापति का कहना है कि “अमर को हमेशा से ही इलेक्ट्रॉनिक्स में रूचि रही है। साथ ही, वह हमेशा लोगों की मदद करना चाहते हैं। कोरोना महामारी के टाइम पे उन्हें लोगों के लिए कुछ करने का मौका मिला ”

जब यह बिजनेस शुरू हुआ था, तो लोगो ने मजाक उडाया कई लोग हंसते थे।

लेकिन आज सब उनकी तारीफ करते हैं। सारा क्रेडिट अमर को ही जाता है। क्योंकि उसकी मेहनत से लोगों के सामने एक उदाहरण पेश किया है।

 

अभी LED Bulb कंपनी की डायरेक्टर अमर की माँ हैं। लेकिन जैसे ही अमर 18 साल का हो जाएगा तब कंपनी की पूरी जिम्मेदारी उनके कंधों पर होगी।

15 year old boy led business amar prajapati light bulb

AMAR PARAJAPATI WITH FAMILY

अमर इस LED Bulb Business को बढ़ावा देने के लिए सेंसर बल्ब (Sensor Bulb) लांच करने वाले है

और वह जल्द ही उत्पादों को ऑनलाइन बेचने के लिए एक वेबसाइट शुरू करना चाहते है।

माँ बाप अक्सर अपने सपने, बच्चों पर थोप देते हैं। लेकिन इससे बच्चों पर काफी दवाब बढ़ जाता है
लेकिन इसका उनपर काफी बुरा असर पड़ता है। इसलिए, हर माता-पिता को अपने बच्चे की रूचि को समझना चाहिए और उन्हें आगे बढ़ने का मौका देना चाहिए।

यदि आपको CHANGE YOUR LIFE की MOTIVATIONAL कहानियां पसंद आती हैं या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हैं तो हमें thechangeyourlife@gmail.com पर लिखें या Facebook, Twitter पर संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.