NEVER REGRET : 5-things-you-should-never-do | 5 चीजें जो आपको कभी नहीं करनी चाहिए  ?

By | February 5, 2022

5 चीजें जो आपको कभी नहीं करनी चाहिए  | 5-things-you-should-never-do

Table of Contents

5 चीजें जो आपको कभी नहीं करनी चाहिए , 5 बुराइयां, 5 जीवन में चीजें नहीं करना चाहिए, 5 चीजों से बचना चाहिए  | 5-things-you-should-never-do , 5 evils , 5 not to  do things in life , 5 things to avoid 

5-things-you-should-never-do

5-things-you-should-never-do

1) दूसरे की बुराई सुन के मजे लेना ( 5-things-you-should-never-do )

देखिये ये तो हमें पता है की हमें कभी किसी की बुराई नहीं करनी चाहिए , लेकिन अगर कोई दूसरा किसी की बुराई कर रहा हो , और हम सुन रहे है , तो क्या वो सही है , नहीं वो बिलकुल सही नहीं है , हमें उसे enjoy नहीं करना चाहिए , अगर आप दूसरे की बुराई को सुन के एन्जॉय कर रहे है , या उसमे इंटरेस्ट शो कर रहे है , तो तैयार हो जाईये आपकी बुराई करवाने के लिए, क्योकि जो आपके के सामने किसी और के बुराई कर रहा है , क्या वो दूसरे के सामने आपकी बुराई नहीं करेगा , वो तो करेगा , क्योकि उसकी तो ये आदत बन गयी है

जो लोग आपके सामने औरों का मज़ाक उड़ाते हैं वो औरों के सामने आपका भी मज़ाक उड़ाते होंगे, उसको इसमें मजा आता है दूसरी बात बुराई हमेशा negativity लाती है , आप एक तरह से अपने अंदर नेगेटिविटी को अपनी तरफ attract (आकर्षित ) कर रहे है , इससे आपका मन भी अशांत होगा , इसलिए पहली बात तो ऐसे लोगो से दुरी ही बनानी चाहिए जिनका काम ही होता है , दुसरो की बुराई करके मजे लेना, और अगर हम उसे अवॉयड नहीं कर सकते है , तो हमें कोई रिएक्शन( प्रतिक्रिया ) नहीं देनी चाहिए, चुप चाप गूंगे बहरा बन के बैठे रहो , जब सामने वाले को लगेगा की आप कोई इंटरेस्ट नहीं ले रहे हो ,वो अपने आप चुप हो जाएगा ,

2) अपने अन्दर को दूसरे के बाहर से compare करना ( 5-things-you-should-never-do )

हम अपने दुःख से दुखी नहीं , दुसरो के सुख से दुखी है , जी हाँ ये सच है , हर आदमी की असलियत उसी को पता होती है , अगर आपके सामने कोई मुस्करा भी रहा है , तो क्या पता वो अपने अंदर कितने दुखो की समेटे बैठा है , हमें जो दिख रहा है , वो सच नहीं होता, हम लोगो के बाहरी रूप को देख कर अंदाजा लगते है वो कितना खुश है , और हम कितने दुखी है , क्या पता उसके पास कोई और आपसे भी बड़े दुःख हो , वैसे भी किसी के सामने अपने दुखो की नुमाईश लगाना की अच्छी बात नहीं होती ,

अगर आप किसी के सामने ज्यादा अपने दुखो का रोना रोयेंगे, तो क्या वो आपके दुःख दूर कर देगा, वो आपसे कटने लग जाएगा, वो कहेगा कि ये तो हमेशा ही रोता रहता है या रोती रहती है , इसे कोई और काम ही नहीं है , और हो सकता है की वो फिर दुसरो के सामने आपके सारे दुःख शेयर करे, सारे ज़माने भर में अपने दुखो का प्रचार करना या करवाना कोई सही बात नहीं है ,

जो कुछ भी आप कर सकते हो वो करो , नहीं तो भगवान के ऊपर छोड़ दे, नाकि लोगो में उस बात का प्रचार करते फिरे , किसी को अपनी कमजोरिया कभी नहीं बतानी चाहिए , हमेशा अपना मजबूत और सशक्त रूप और हँसता – मुस्कुराता चेहरा दुसरो के सामने प्रदर्शित करना चाहिए।

मेरा पर्सनल सुझाव तो ये है की ,आप इतने खुश dikho , की सामने वाले आपसे jealous करने लगे , और और अच्छे पॉजिटिव लोग हो वो आपको कॉपी करने लग जाए, बे मतलब रोना का कोई मतलब नहीं होता है

3) किसी काम के लिए दूसरों पर depend करना ( 5-things-you-should-never-do )

हमें जिंदगी में किसी पर डिपेंड नहीं होना चहिये, कई लोग तो हर छोटे बड़े काम के लिए दुसरो पर डिपेंड रहते है , ये आपके जीवन की सफलता में बहुत बड़ा रोड़ा है , आप कभी ये मत सोचो कि ये काम कैसे होगा, अगर उसने मेरी मदद नहीं करी तो क्या होगा,,
कहता है ना ” भगवान भी उनकी मदद करता है , जो अपनी मदद खुद करते है” ,

आप अगर कोई काम नहीं कर पाएंगे तो देखा जाएगा , लेकिन आप इस डर से काम शुरू ही न करो कि मैं तो इस काम को कर ही नहीं पाउँगा, मैंने देखा है , कि बहुत चाहे दोस्त भी कन्नी काटने लग जाते है , अगर उन्हें लगने लग जाता है , कि इसका काम मेरे बिना चल ही नहीं सकता, हमेशा अपने आप को सशक्त ओट मजबूत रूप में प्रदर्शित करो , और हमेशा अपना हर काम खुद ही करने का प्रयास करो ,

अगर आप खुद शुरुआत करोगे, और किसी से मदद नहीं मांगोगे, तो आपके दोस्त भी आपकी मदद के लिए आगे आ जाएंगे , लेकिन काम शुरू करने से पहले ही मदद मांगोगे तो कोई नहीं आएगा मदद करने , उलटे लोग आपकी पीठ पीछे आपकी मजाक उड़ाएंगे कि , इसके बस का कुछ नहीं है

अपना काम खुद करने से आपका confidence बढेगा, ऐसे लोग जो छोटे छोटे कामों को करने में आत्मनिर्भर होते हैं वही आगे चल कर बड़े -बड़े challenges भी पार कर लेते हैं, तो अपनी इस आदत की बदलिए।

4) जो बीत चुका है , उसका अफ़सोस करना( 5-things-you-should-never-do )

कहा गया है ना। “बीती ताहि बिसारि दे, आगे की सुधि लेइ। ” , इसका मतलब है तो बीत चुका है उसको भूल जाईये , और उससे सबक लेकर आगे की सोचिये, देखो , तीन चीज़े है , PAST(भुतकाल)  PRESENT(वर्तमान) & FUTURE(भविष्य काल)

PAST(भुतकाल) मतलब जो बीत चुका है ,तो जो बीत चुका है , आप उसका कर क्या लोगे,  गया हुआ वक़्त कभी वापिस नहीं आता , तो आप जितना मर्जी अफ़सोस कर लो लेकिन आप कुछ भी नहीं कर सकते , जितना रोना है रो लो , फिर क्या होगा

PRESENT(वर्तमान) आपके हाथ में है , आप जो कुछ भी कर सकते हो इसी PRESENT(वर्तमान) में कर सकते हो , तो PRESENT(वर्तमान) आपका है , ना PAST आपका है , ना FUTURE

PAST बीत चुका है , उसका कुछ नहीं हो सकता
FUTURE  वाला है , उसकी आप सिर्फ प्लानिंग कर सकते हो ,

लेकिन जो करना है वो तो इसी PRESENT(वर्तमान) में करना है , केवल और केवल PRESENT(वर्तमान) आपका है ,इसलिए अपने PRESENT(वर्तमान) को देखो , जिससे आपका आने वाला फ्यूचर अच्छा हो , जो गलती PAST  में हुई है , वो अब ना हो,

बीती हुई बातो को याद करने से कुछ नहीं होता, तो गलती हो चुकी है , उससे सबक लो और आगे बढ़ो , उसे जीवन में दुबारा मत दोहराओ।
अगर आपके साथ PAST में कुछ ऐसी बात हुई है और आपको दुखी करती है तो जाहिर है उसका अफ़सोस तो होगा ही लेकिन बार बार उसके बारे में अफ़सोस मत करिए और उस incident से जो सीख ले सकते हैं वो लीजिये और आगे का देखिये. अगर आप ऐसा करते हैं तो किसी और से ज्यादा आप ही का नुकसान होता है. आप PAST में ही फंसे रह जाते हैं, और ना इस पल को जी पाते हैं और ना FUTURE(भविष्य ) के लिए खुद को prepare कर पाते हैं.

5) जो आप जीवन में पाना चाहते है या करना कहते है उसपर focus करना

हम लोग उल्टा करते है , हम उस पर फोकस(FOCUS)  करते ही , जो हम नहीं पाना चाहते है , हम हमेशा नेगेटिव (NEGATIVE ) बात ही सोचते रहते है ,वो सोचो जो पाना है , जो करना है ,— देखो , हम जिस चीज पर ध्यान केंद्रित करते हैं न सम्पूर्ण ब्रह्मांड में उस चीज में आश्चर्यजनक रूप से वृद्धि होती है,

ये नियम है , और हम इस को फॉलो नहीं करते , इसलिए आप जो होते देखना चाहते हैं उस पर focus करिए, उस बारे में बात करिए , उसकी बात ही मत करो जो आप नहीं चाहते हैं.

For example: यदि आप अपनी बिज़नेस बढ़ाना चाहते हैं तो उसमे आने वाली दिक्कतों की बात मत करो , हर वक़्त कम्पटीशन की बात मत करो , नै आइडियाज पैर बात करो , नयी opportunities और बिज़नेस deals पर बात कीजिये.

तो ये वो 5 बाते है , जो आपको जिंदगी में कभी नहीं करनी चाहिए , अगर आप इन बातो की अपनी जिंदगी में अप्लाई करते हो , तो श्यादा आपके लिए ये बहुत लाभ दायक साबित होंगी। हमारी कोशिश तो यही है।

यदि आपको CHANGE YOUR LIFE की MOTIVATIONAL कहानियां पसंद आती हैं या आप अपने किसी अनुभव को हमारे साथ साझा करना चाहते हैं तो हमें [email protected] पर लिखें या Facebook, Twitter पर संपर्क करें।

 

यह भी पढ़े :-

ढाबा चलानेवाला12वीं पास लड़का, बन गया रिजॉर्ट का मालिक | 12th pass boy running Dhaba, became the owner of the resort

 

चाय पी के cup खा लो | DRINK TEA IN IT, THEN EAT CUP

सपनों का मतलब | सपनों का अर्थ | sapno ka matlab | sapno ka matlab hindi

YouTube चैनल शुरू करते ही होगी अंधाधुंध कमाई, जानें कमाल का तरीका

बेटे के चॉकलेट खाने की ज़िद ने लॉकडाउन में शुरू करवा दिया टीचर मम्मी का साइड बिज़नेस

 

medium.com

 

5 चीजें जो आपको कभी नहीं करनी चाहिए , 5 बुराइयां, 5 जीवन में चीजें नहीं करना चाहिए, 5 चीजों से बचना चाहिए  , 5-things-you-should-never-do , 5 evils , 5 not to  do things in life , 5 things to avoid ,5 things you should never do

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *